Dard Bhari Shayari |

dard bhari shayari

🖤कम्बख्त इस ज़माने को 💔 सुकूँ कहाँ है कम्बख्त इस ज़माने में एक एक शख़्स दिल लुभा रहा दूसरे को सताने में…..💔….// 😪कहाँ ढूँढ़ते हो इश्क़ को😭 कहाँ ढूँढ़ते हो तुम इश्क़ 💝को ऐ-बेखबर ये खुद ही ढून्ढ लेता है… Continue Reading